Tuesday, October 25, 2011

प्रकाश पर्व दीपावली की शुभकामनाए!


विवेक आलोक विस्तृत हो जग में
छट जाए दुःख दरिद्रता का अंधकार
पग-पग सौहार्द के दीप जलाए
प्रेमालोक में डूब जाए संसार
उर की अभिलाषाए पूर्ण करें
दीपावली का यह शुभ त्यौहार.....
**************************************
"हिंदी साहित्य मंच" की ओर से आप सभी को प्रकाशपर्व की हार्दिक शुभकामनाए!

छवि गूगल से साभार....
Disqus Comments