ऐ दर्द न सता मुझे-----(गजल)----दिलबाग विर्क

किस बात की दे रहा सज़ा मुझे
है क्या गुनाह मेरा , बता मुझे .

हिम्मत नहीं अब और सहने की
रुक भी जा , ऐ दर्द न सता मुझे .

या खुदा ! अदना-सा इंसान हूँ
टूट जाऊँगा , न आजमा मुझे .

क्यों चुप रहा उसकी तौहीन देखकर
ये पूछती है , मेरी वफा मुझे .

आखिर ये बेनूरी तो छटे
किन्ही बहानों से बहला मुझे .

एक अनजाना सा खौफ हावी है
अब क्या कहूँ 'विर्क' हुआ क्या मुझे

Comments

Popular posts from this blog

Television presenter: Catherine gee Biography,age, husbandh, marriage, partner, net worth, brother, wedding wiki info

hay this is new post about the product of beauty and skin care

malia obama prom photo- Obama's Daughter Malia obama